पारशे माछेर झाल की असली रेसिपी | Parshe Fish Curry Recipe in Hindi

पारशे माछेर झाल Recipe Final Step

पारशे माछेर झाल रेसिपी को अनुसरण कर तैयार करें यह स्वादिष्ट बेंगली व्यंजन

पारशे मछली क्या है?

पारशे प्रधानतः मीठे पानी में रहनी वाली मछली है। वैसे यह मछली सामुद्रिक तटीय क्षेत्र वाली नदी एवं समुद्र के खाड़ी इलाके वाले पानी में भी पाई जाती है। अंग्रेज़ी में इसे Mullet कही जाती है। भारत देश में इसे पारशे (পার্শে) एवं बोई, परर्शे, शेवटो के नाम से भी जाना जाता है। यह बहुकांटेदार मछली की श्रेणी में है।

पारशे माछेर झाल कैसे बनता है?

पारशे मछली को सबसे पहले काटकर साफ कर ली जाती है। उसके बाद मछली पर नमक हल्दी मिलाकर कुछ देर (15 मिनट) के लिए मैरिनेट होने के लिए रख दी जाती है।

अब सरसों को पीसकर मिश्रण तैयार किया जाता है जो इस व्यंजन की मुख्य सामग्री है।

अब सबसे पहले मछली के टुकड़ों को सरसों तेल के द्वारा तल लेना है एवं अलग रखना है।

फिर यह उसी फ्राइंग पैन पर सरसों तेल में दो चुटकी कलौंजी को डालकर चटकाने के बाद बारीक कटे टमाटर को भूनकर सरसों के मिश्रण में मिलाकर पकाया जाता है। हरी मिर्च, निम्बू का रस, स्वादानुसार नमक एवं आवश्यकता अनुसार पानी डालकर घना रसा तैयार कर लेना है।

तली हुई मछलियों को रसा में डालकर कुछ देर तक पका लेना है। धनिया पत्ता से सजावट करना है। अब तैयार व्यंजन को गरमा गरम परोसें चावल के साथ। 

यहाँ यह व्यंजन को तैयार करने के लिए बिल्कुल सरल विधि बताई गई है।

व्यंजन विधि के लिए नीचे दिए हुए पद्धति का अनुसरण करें।

व्यंजन के वर्गीकरण

व्यंजन विधि/ Cuisineपश्चिम बंगाल शैली
भारतीय 
भोजन चुनावमत्स्यहारी ( मछली) / मुख्य भोज
व्यंजन नाम पारशे माछेर झोल

रंधनपाक समय

सामग्री तैयारी करने का समय15  Mins 
पकाने का समय/ कुकिंग टाइम20 Mins
कुल समय35 Mins

सर्विंग

अंश भाग / पोरशन2 व्यक्ति के लिए

पारशे माछेर झाल रेसिपी के लिए सामग्री | Ingredients

पारशे मछली500 gm
पीला सरसों2 tablespoon
काला सरसों2 tablespoon
कलौंजी2 चुटकी
हल्दी पाउडर½  tablespoon
मिर्ची पाउडर  ¼  teaspoon
हरी मिर्ची(चिरी हुई)4 मिर्च
निम्बू रसआधा निम्बू
शक्कर¼  teaspoon
नमकस्वादानुसार
सरसों तेल (मछली डालने के लिए)3 tablespoon / आवश्यक्ता अनुसार
सरसों तेल (रसा तैयार करने के लिए)1 ½  tablespoon / आवश्यक्ता अनुसार
पानी 200 ml/ आवश्यकता अनुसार
सजावट के लिए
धनिया पत्ता(बारीक कटा हुआ) 1 teaspoon
व्यंजन की विधि चित्र सहित (प्रिपरेशन मेथड)
पारशे माछेर झाल Recipe Step 1
  • बाजार से मछली काट कर लाएँ।
  • मछली टुकड़ों को नमक पानी में ठीक से धो लें। मछली के टुकड़ों में फिसलन नहीं रहनी चाहिए।
  • मछलियों को पानी से निकाल कर छलनी में रखें। पानी झड़ जाने पर एक बर्तन में रखें।
  • दो चुटकी नमक, ½ टैब्लेस्पून हल्दी पाउडर,  कुछ बूंद तेल, मछली टुकड़ों में मिला कर पंद्रह मिनट तक रख दें।
  • सरसों को पानी में कुछ देर के लिए भिगों दें।
पारशे माछेर झाल Recipe Step 2
  • सरसों के दानों को मिक्सर जार में मुलायम कर पीस लें।
  • सरसों के मिश्रण में आवश्यकता अनुसार पानी मिलाकर छलनी द्वारा छान लें। सरसों के छिलकों को निकाल कर अलग कर दें।
  • छानी हुई सरसों छिलके का इस्तेमाल न करें।
पारशे माछेर झाल Recipe Step 3
  • सरसों के तरल कच्चे घोल मिश्रण को रसा में उपयोग करने के लिए अलग रखें।
  • फ्राइंग पैन में सरसों तेल गरम कर लें। मध्यम आंच रखें।
  • मछली टुकड़ों को गरम तेल में सुनहरा पिला होने तक तल लें।
  • मछली तलते समय फ्राइंग पैन को ढक कर उपयोग करें। मछली जल्दी पकेगी और मुलायम रहेगी।
पारशे माछेर झाल Recipe Step 4
  • मछली तल जाने पर फ्राइंग पैन से निकाल कर अलग एक तश्तरी में रखें।
  • उसी फ्राइंग पैन में सरसों तेल डालकर गर्म करें। 
  • दो चुटकी कलौंजी डालकर हल्का भून लें।
  • कटे हुए टमाटर डालकर भूनें।
पारशे माछेर झाल Recipe Step 5
  • फ्राइंग पैन में सरसों मिश्रण को डालें। उबलने दें।
  • हरी मिर्च, हल्दी पाउडर, लाल मार्च पाउडर, शक्कर डालें। 
  • निम्बू रस डालें।
  • नमक डालें।
  • तरल मिश्रण को मुलायम होने तक उबलने दें।
पारशे माछेर झाल Recipe Step 6
  • अब तली हुई मछली के टुकड़ो को रसा में डालें।
  • कटा हुआ धनिया पत्ता डालें।
  • फ्राइंग पैन को एक ढक्कन से ढक दें। धीमी आंच पे मछली को पांच मिनट तक भाँप में पकने दें।
  • अब ढक्कन हटा दें। रसा का स्वाद को चख कर देखें। स्वाद नमकीन, हल्का खट्टा मीठा होना चाहिए।
  • आवश्यकता अनुसार स्वाद को संतुलित करें।
  • एक चम्मच सरसों तेल रसा के ऊपर डाल दें।
  • आँच को बंद करें। 
  • व्यंजन तैयार है।
  • गरमा गर्म परोसें चावल के संग।
टिप्स 
  • बाजार करते समय ध्यान रखें कि ताज़ा मछली चांदी जैसी चमकदार, हल्की गुलाबी रंगत और लचीली होती है।
  • मछली के मांस के अंदर में पतली कांटेदार हड्डियां (फिश बोन) होती है। बच्चों को परोसते समय इस बात का ख़ास ध्यान रखें। 
  • मछली को फ्राइंग पैन में ढक कर तलने से मछली की परत मुलायम रहती है।
  • सरसों के छिलके को रसा में इस्तेमाल न करें। सरसों के छिलके के सेवन से बदहजमी व पेट दर्द होने की संभावना रहती है।
FAQ

परशे मछली के फायदे|

अजमोद में फ्लेवोनोइड्स, कैरोटेनॉयड्स और विटामिन सी सहित इसके एंटीऑक्सिडेंट्स के कारण एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। इसके अतिरिक्त, अजमोद उच्च रक्तचाप को कम करके आपके गुर्दे को स्वस्थ रखने में मदद कर सकता है, जो किडनी की बीमारी के लिए एक प्रमुख जोखिम कारक है।

मछली के अच्छे फायदे क्या हैं?

मछली कैल्शियम और फास्फोरस में समृद्ध है और खनिजों का एक बड़ा स्रोत है, जैसे लोहा, जस्ता, आयोडीन, मैग्नीशियम और पोटेशियम |

Submit your review
1
2
3
4
5
Submit
     
Cancel

Create your own review
स्वादिष्ट रेसिपी
Average rating:  
 0 reviews

Leave a Reply

close
Scroll to Top