लौकी की खीर रेसिपी | Lauki Kheer Recipe in Hindi

लौकी की खीर / दुद्धि खीर रेसिपी

लौकी हमारे देश में दुद्धी  या घीया  के नाम से भी जाना जाता है जिसे अंग्रेज़ी में Bottle Gourd भी कहा जाता है। लौकी में लगभग 70 से 80 प्रतिशत पानी का मात्र होने के कारण यह पकाते समय पानी का उपयोग बिल्कुल नहीं के बराबर होता है। लौकी के ज्यूस हमारे स्वास्थ्य के लिए बहोत लाभदायी सिद्ध हुआ है खास कर उनके लिए जो डाइटिंग कर रहें हैं।

हमारे देश में लौकी का व्यंजन विभिन्न प्रकार से बनाया जाता है जो हम सब बड़े ही चाव से रस का आस्वादन करतें हैं।

बिहार – झारखंड प्रदेश में दीपावली के बाद एक बड़ा त्योहार मनाया जाता है जिसे छठ पूजा के नाम से प्रसिद्धि प्राप्त है।इस उत्सव में लौकी की सब्ज़ी का बड़ा योगदान पाया जाता है। विभिन्न व्यंजन में लौकी की खीर का प्राधान्यता सबसे पहले आता है।

लौकी की खीर बनाना बहुत आसान है और स्वादिष्ट भी है | खीर को व्रत,जन्मदिन के पार्टी या घर में कभी भी बनाइये|

 संपूर्ण आर्गेनिक भी है और स्वादिष्ट मिठाई भी है | 

व्यंजन विधि/Cuisine भारतीय/इंडियन 

व्यंजन : खीर / मिठाई

भोजन चुनाव : शाकाहारी 

जैन व्यंजन: हाँ  

सामग्री तैयारी करने का समय 15 Mins  

पकाने का समय/ कुकिंग टाइम  : 30 Mins अंश भाग/पोरशन  : 4 – 6 लोगों के लिए

सामग्री |Ingredient

लौकी : 250 gram 

दूध : 250 मिलि लीटर (या ग्राम ) 

इलाइची :1 pc  

तेज पत्ता : 1- 2 pcs 

चीनी /शक्कर :25 grams   

घी : 2 table spoon 

सजावट (गार्निश ) के लिए 

काजू: 6 nos. 

किसमिस : 10 nos.  

रेड चेरी टुकड़े : 1 table spoon 

लौकी की खीर रेसिपी  बनाने का प्रणाली (प्रिपरेशन मेथड) |How To Make Lauki Ki Kheer

1.लौकी /दुद्धी का छिलका निकल ले| ग्रेटर से कद्दूकश (ग्रेट) कर लें।

लौकी का स्वाद परख लीजियेगा और अगर कड़वी हो तो वह लौकी को इस्तेमाल में नहीं लेना चाहिए | दूसरा लौकी लेना होगा जो मीठी है |

लौकी /दुद्धी का छिलका निकल ले| ग्रेटर से कद्दूकश (ग्रेट) कर लें।
लौकी /दुद्धी का छिलका निकल ले| ग्रेटर से कद्दूकश (ग्रेट) कर लें।
Lauki ki kheer
कद्दूकश (ग्रेट) लौकी

2. लौकी /दुद्धी को हाथ के मुट्ठी में रख के अच्छी तरह दबाकर  पानी निकल  लीजिये|  

लौकी के पानी को अलग एक पत्र में रख दे जिसे दूसरी कोई सब्जी बनाते समय इस्तेमाल कर सकते हैं | .

3. कड़ाई को गर्म कर ले फिर उसमें घी डालिये | घी गरम होते  ही ग्रेट (कद्दूकश ) किया हुआ लौकी को घी में फ्राई कीजिये | 

4. फ्राई  करते समय  गैस के फ्लेम (आग ) को  माध्यम या धीमी रखे| फ्राई करते समय करछुल (ladle) को चलाते  रहे| लौकी जब घी छोड़ने लगे तो समझना चाहिए लौकी पक गई  है | 

5. तली  हुई  लौकी को अलग बर्तन में रखे | कढ़ाई में एक चम्मच जैसा घी रख के बाकी घी को अलग  रख दे | 

 तेज पत्ता,इलाइची,दालचीनी को घी में ज़रा हल्का तल लीजिये | 

दूध को पहले से गरम करके रखियेगा जो अब कढ़ाई में डाल देना है | दूध उबलने पर चीनी मिलाये| 

लौकी को दूध में डाल दे |

Lauki Kheer

6. धीमी आंच में कुछ देर तक पकने दे |  करछुल (ladle ) को खीर में चलाते  रहे | खीर जब गाढ़ा होने लगे तो गैस फ्लेम को बंध  कर दें |

Lauki Ki Kheer
| खीर जब गाढ़ा होने लगे तो गैस फ्लेम को बंध कर दें

7. खीर को एक बर्तन में डालें |

7 edited 1
खीर को एक बर्तन में डालें |

8. काजू,किसमिस,रेड चेरी  से गार्निश (ऊपर से छिड़किये ) करें |लौकी खीर को गरम या ठंडा अपने पसंद के अनुसार परोसें।

लौकी खीर रेसिपी

नोट्स एवं टिप्स | Useful Notes & Tips

१ लौकी के छिलके को न फेंके | छिलके को  बारीक काटके तेल में अक्खा जीरा के साथ फ्राई करें और रोटी,पराठा,चावल के साथ परोसें| 

२ लौकी  से निकला हुआ पानी को पी सकते हैं या फिर कोई भी सब्ज़ी बनाते समय उसे इस्तेमाल कर सकते हैं | 

३ खीर को फ्रीज में रखने से कम से कम एक हफ्ते तक ताज़ा रह सकता है | 

 

Leave a Reply

close
Scroll to Top