रुई माछेर झोल | Rohu Fish Curry Recipe in Hindi

रुई माछेर झोल Recipe Final Step

बेंगली फ़िश करी क्या है?

आमिष भोजन में मछली  के व्यंजन विश्व के सभी देशों में लोकप्रिय है।

हमारा देश भारत नदियों का देश है और पश्चिम,पूर्व एवं दक्षिण दिशा समुद्र से घिरे हुए होने के कारण इन प्रदेशों में मछली से बने व्यंजनों का प्रचलन अधिक देखने को मिलता है।

मछली के सेवन से हमारे शरीर को प्रोटीन इत्यादि पोषक तत्व प्राप्त होता है।

रुई माछेर झोल, इस रेसिपी पर विधि बताएंगे जिसके द्वारा यह व्यंजन तैयार करना बिल्कुल आसान है और इसका स्वाद बहुत सुस्वादु भी है।

यह विधि पश्चिम बंगाल प्रदेश के अनुसार बनाई गई है। इस व्यंजन विधि में रोहू मछली का उपयोग किया गया है। पश्चिम बंगाल में विभिन्न कांटेदार मछलियों में रोहू और कातला प्रजाति अधिक लोकप्रिय है। इन मछलियों पे शल्क (fish scales) होतें हैं जिसे निकालकर अलग करना होता है। उसके बाद ही इसका उपयोग किया जाता है।

यह व्यंजन को पकाने के लिए मछली को सरसों तेल में तलकर फिर प्याज़, अदरक लहसुन मिश्रण एवं कुछ मसालों से तैयार किया हुआ झोल (रसा) में तली हुई मछली को डालकर पकाई जाती है।

यह व्यंजन के कुछ प्रचलित नाम है जैसे – रुई माछेर झोल, रुई माछेर पातला झोल, बेंगली फिश करी। 

व्यंजन विधि के लिए के लिए नीचे दिए हुए पद्धति का अनुसरण करें।

व्यंजन के वर्गीकरण

व्यंजन शैली / Cuisineपश्चिम बंगला शैली  -भारतीय/इंडियन 
भोजन चुनावमांसाहारी ( मछली)
व्यंजन नामरुई माछेर झोल

आहार के प्रकार

सात्विक आहारनहीं
जैन व्यंजननहीं

रंधनपाक समय

मछली साफ करने का समय5 Mins
सामग्री तैयारी करने का समय5  Mins 
पकाने का समय/ कुकिंग टाइम15  Mins 
कुल समय25 Mins

सर्विंग

अंश भाग / पोरशन 4 लोगों के लिए

बेंगली फ़िश करी रेसिपी के लिए सामग्री | Ingredients

रोहू मछली250 gm
हल्दी पाउडर2 teaspoon
मिर्ची पाउडर (वैकल्पिक)half teaspoon
कलौंजी   ½ teaspoon
जीरा पाउडर1 teaspoon
धनिया पाउडर2 teaspoon
गरम मसाला½ teaspoon
प्याज़(बारीक कटी हुई) 2 मध्यम प्याज़
अदरकलहसुन पेस्ट1 teaspoon
टमाटर(बारीक कटा हुई)1 टमाटर
हरा मिर्ची( बीज निकाल हुआ)  4 मिर्च 
शक्कर1 teaspoon
नमकस्वाद अनुसार
सरसों तेल/ सनफ्लॉवर तेल (तलने के लिए)आवश्यक्ता अनुसार
पानी (झोल तैयार करने के लिए)300 ml / आवश्यकता अनुसार
सजावट के लिए
धनिया पत्ता(बारीक कटी हुई)1 spoon

व्यंजन की विधि चित्र सहित (प्रिपरेशन मेथड)

Rui macher jhol  Recipe Step 1

मछली साफ करने की विधि

  • बाजार से मछली लाते समय कटा कर लाएँ।
  • घर में लाकर मछलियों को नमक पानी में ठीक से धो लें। मछली के टुकड़ों में फिसलन रहनी नहीं चाहिए।
  • मछलियों को पानी से निकाल कर छलनी में रखें। पानी झड़ जाने पर एक बर्तन में रखें।
  • नमक, हल्दी पाउडर, मछली टुकड़ों में मिला कर 5/10 मिनट रख दें।
  • मध्यम आंच पर फ्राइंग पैन में सरसों तेल डालकर गरम करें।

मछली तलने की विधि

Rui macher jhol Recipe Step 2
  • मछली के टुकड़ों को फ्राइंग पैन  में एक -एक कर के डालें।
  • फ्राइंग पैन को ढक दें और भाँप पर पकने दें।
  • मछली टुकड़ों के दोनों तरफ पलटकर सुनहरा पिला होने तक तल लें।
  • मछली तल जाने पर फ्राइंग पैन से निकाल कर अलग तश्तरी पर रखें।

झोल / रसा या ग्रेवी बानाने की विधि:

Rui macher jhol Recipe Step 3
  • पुनः उसी फ्राइंग पैन दो टैब्लेस्पून सरसों तेल डालकर गरम करें।
  • अदरक लहसुन का पेस्ट डालकर करछुल से चलाकर भूनते रहें।
  • प्याज़ डालकर कुछ देर भूनें। आंच को मध्यम रखें।
  • मिश्रण जब तेल छोड़ने लगे तब टमाटर मिलाकर मिश्रण को भूनें।
  • टमाटर गल जाने पर जीरा-धनिया पाउडर, लाल मिर्च पाउडर डालें।
Rui macher jhol Recipe Step 4
  • मिश्रण को करछुल से चला कर अच्छी तरह भून लें।
  • अब 300 ml या आवश्यकता अनुसार पानी डालकर मिला दें।
  • शक्कर डालें।
  • झोल को उबलने दें। मिर्च और स्वाद अनुसार नमक मिला दें।
  • झोल  जब थोड़ा गाड़ा हो जाय और प्याज़ आदि बिल्कुल गल जाय तब मछली टुकड़ों को झोल में डाल दें।
  • गरम मसाला डालकर मिला दें। 
  • फ्राइंग पैन पे एक ढक्कन से ढक कर 5 मिनट अथवा ज़रूरत अनुसार पकने दें। आंच को धीमी कर दें।
Rui macher jhol Recipe Step 5
  • अब ढक्कन को हटा दें। स्वाद को परखें। स्वाद नमकीन एवं थोड़ा तीखा होना चाहिए। स्वाद  में थोड़ा हल्का मीठास भी होना चाहिए।
  • ज़रूरत पड़ने पर आवश्यकता अनुसार स्वाद को संतुलित करें।
  • व्यंजन तैयार है। आंच को बंद करें।

सजावट के लिए

परोसने की विधि

टिप्स 
  • बाजार करते समय ध्यान रखें कि ताज़ा मछली चांदी जैसी चमकदार, हल्की गुलाबी रंगत और लचिली होती है।
  • यह व्यंजन को बनाने के लिए शल्कदार (fish scales) या बिना शल्क(without fish scales) वाली मछलियों में से कोई भी प्रयोग में लाया जा सकता है।
  • सारे प्रकार की मछलियों तलने की विधि एक जैसी ही होती है।
  • मछली को तलते समय धीमी आंच रखें एवं फ्राइंग पैन को एक ढक्कन से ढक कर तलें। मछली मुलायम पकेगी।
  • रोहू/ कतला मछली के मांस कांटेदार होती है। इस बात का खास ध्यान रखें। बच्चों को परोसते समय इस बात का खास ध्यान रखें। 
  • एक कांटे वाली मछली से भी यह व्यंजन कोबनाया जा सकता है।
FAQ

सबसे अच्छी बंगाली मछली कौन सी है?

हिल्सा। यह मछली बंगालियों के दिलों और स्वाद कलियों में एक बहुत ही खास जगह रखती है।
रोहू। बंगाल में लोकप्रिय रूप से “रुई” के रूप में जाना जाता है, यह मीठे पानी की मछली राज्य भर के विभिन्न मछली बाजारों में व्यापक रूप से उपलब्ध है।
कोई. कोई या क्लाइंबिंग पर्च एशिया की मूल निवासी है और बंगाल की एक लोकप्रिय मछली है।
तिलापिया।

माछेर झोल के लिए कौन सा राज्य प्रसिद्ध है?

पश्चिम बंगाल

माछेर झोल का क्या अर्थ है?

माछेर झोल भारतीय उपमहाद्वीप के पूर्वी भाग में बंगाली और ओडिया व्यंजनों में एक पारंपरिक मसालेदार मछली करी है। यह एक बहुत ही मसालेदार स्टू या ग्रेवी के रूप में होता है जिसे चावल के साथ परोसा जाता है।

किस बंगाली मछली की हड्डियाँ कम होती हैं?

भेटकी

क्या ROHU एक बोनी मछली है?

लैबियो रोहिता (रोहू) साइप्रिनिडे परिवार में बोनी मछलियों की एक प्रजाति है। वे मीठे पानी के आवास से जुड़े हुए हैं। व्यक्ति 200 सेमी तक बढ़ सकते हैं।

Submit your review
1
2
3
4
5
Submit
     
Cancel

Create your own review
स्वादिष्ट रेसिपी
Average rating:  
 0 reviews

Leave a Reply

close
Scroll to Top